जेल से 9 कैदियों को रिहा किया गया

पोर्ट ब्लेयर। कोरोना वायरस के प्रसार को देखते हुए जेल प्रशासन ने अंडमान तथा निकोबार की जेलों में बंद 9 कैदियों को पैरोल पर रिहा किया गया है। रिहा होने वाले कैदियों में 6 कैदी प्राथ्रापुर जिला कारागार तथा 3 कैदी मायाबंदर कारागार के है।
अंडमान निकोबार द्वीपसमूह के उप राज्यपाल द्वारा छह सजायाफ्ता कैदियों को 90 दिनों की पैरोल पर छोड़ा गया है। वहीं अभियोगाधीन कैदियों को संबंधित न्यायालयों द्वारा 90 दिनों के अंतरिम जमानत पर रिहा किया गया है। अंडमान निकोबार राज्रू विधि सेवा प्राधिकरण के समर्थन से तथा कैदियों में कोविड-19 वायरस के संक्रमण से बचने के लिए उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति जाॅयमाला गाग्ची की अध्यक्षता में गठित उच्चाध्किार प्राप्त समिति की सिफारिाों के आधार पर कैदियों की रिहाई हुई है।
रिहाई किए गए कैदियों में अधिकतम सात वर्ष या उससे कम सजा वाले कैदियों को ही छोड़ा गया है। कारागार में उनका आचरण संतोष जनक पाया गया था। उचित चिकित्सा जांच के बाद तथा चिकित्सा अधिकारियों द्वारा तंदुरुस्त पाए जाने पर उन्हें रिहा किया गया है। इन कैदियों को अपने घरों में रहने तथा स्थानीय थानाध्यक्ष के अनुमति के बगैर कही भी नहीं जाने का निर्देश दिया गया है।
अंडमान निकोबार द्वीपसमूह के कैदी का संचालन अधिकारियों के अधीन रहा है। बंदीगृह विभाग द्वारा कोरोना वायरस के प्रसार को देखते हुए कई कदम उठाए गए है। इनमे कारागार परिसरों को संक्रमणमुक्त एवं स्वच्छ रखना, कैदियों की स्वास्थ्य जांच, आने वाले नए कैदियों की क्वारंटाइन, कैदियों के परिजनों से मुलाकात पर रोक आदि शामिल है।

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Related posts

Leave a Comment