एनसीसी कैडेट्स नेश्विक महामारी से लड़ने के लिए लोगों की सेवा करना प्रारंभ किया

कोरोना वायरस (कोविड-19) वैश्विक महामारी से निपटने के लिए सिविल नागरिक और पुलिस प्रशासन ने सिनियर डिवीजन एनसीसी कैडेट कोर (एनसीसी) के कैडटों की सेवाओं के लिए मांग भेजना शुरू कर दिया है। कुछ कैडेट्स ने आज से सेवा करना शुरू भी कर दिया है। रक्षा मंत्रालय ने पिछले सप्ताह ‘एक्सरसाइज एनसीसी योगदान’ के अंतर्गत एनसीसी कैडेट्स को अस्थायी सेवायोजन देने की अनुमति प्रदान की और इस संबंध में दिशा-निर्देश जारी किए। एनसीसी कैडेट्स राज्य और नगर निगम प्राधिकरणों को कोविड-19 से राहत के प्रयासों में अपनी सेवाएं प्रदान करेंगे।

संघ शासित क्षेत्र लद्दाख से आपूर्ति श्रृंखला को बनाए रखने के लिए 08 एनसीसी कैडेट्स की माँग प्राप्त हुई है। मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ निदेशालय को पुलिस अधीक्षक, निमच से आपूर्ति श्रृंखला और परिवहन प्रबंधन हेतु 245 कैडेट्स की सेवाओं के लिए मांग प्राप्त हुई है। वहाँ पर कुल 64 सिनियर डिविजन के कैडेट्स लगाए गए हैं जिसमें 07 महिला कैडेट्स हैं। बिलासपुर के कलेक्टर ने एनसीसी के स्वयंसेवक कैडेट्स को कोविड-19 के निवारक उपायों से संबंधित प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए अनुरोध किया है। कैडेट्स को कोविड-19 के निवारक उपायों के लिए प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

कांगडा जिला उपायुक्त से शहर के विभिन्न स्थलों पर 06 से 14 अप्रैल 2020 तक सामाजिक दूरी बनाए रखने में पुलिस की सहायता के लिए पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश एवं चंडीगढ़ निदेशालय को 86 कैडेट्स की मांग प्राप्त हुई है।

तमिलनाडु में कांचीपुरम की जिला पुलिस ने कोविड-19 से लड़ने के लिए एनसीसी कैडेट्स की सेवाओं हेतु जिला नोडल अधिकारी को अनुरोध किया है। दो महिला कैडेट्स सहित कुल 57 को सेवाओं के लिए लगाया गया है। तमिलनाडु, पुद्दुचेरी एवं अंदेमान निकोबार निदेशालय से 75 कैडेट्स तमिलनाडु और 57 कैडेट्स पुद्दुचेरी में अपनी सेवाएं दे रहे हैं।

एनसीसी ग्रुप हैडक्वार्टर गोरखपुर को उत्तर प्रदेश के बलरामपुर जिला प्रशासन से एनसीसी के स्वयंसेवक कैडेट्स की सेवाओं के लिए मांग प्राप्त हुई है।

उत्तर पूर्व क्षेत्र मेघालय में 06 से 08 अप्रैल के दौरान राशन वितरण एवं सैनेटाइजेशन मॉनिटर करने के कार्य में 80 कैडेट्स पूर्व खासी हिल्स में पुलिस की सहायता कर रहे हैं।

एनसीसी कैडेट्स को हेल्पलाईन एवं कॉल सेंटरों में सहायता करना, राहत सामाग्री, दवाइयों, भोजन एवं आवश्यक मदों का वितरण, सामुदायिक सहायता करना, आंकड़ा प्रबंधन, क्यू प्रबंधन एवं परिवहन प्रबंधन और सीसीटीवी नियंत्रण कक्षों में काम करने से संबंधित कार्य सौंपे गए हैं।

नियुक्तियों के दिशा-निर्देशों के अनुसार राज्य सरकार/जिला प्रशासन स्वयंसेवक एनसीसी कैडेट्स की नियुक्ति के लिए राज्य एनसीसी निदेशालय के माध्यम से मांग भेज सकता है। इसका ब्योरा निदेशालय/ग्रुप मुख्यालय/यूनिट स्तर पर राज्य सरकार/ स्थानीय सिविल नागरिक प्रशासन के साथ मिलकर समन्वित किया जाएगा। कैडेट्स को ड्यूटी पर तैनात करने से पहले जमीनी हकीकत और निर्धारित आवश्यकताओं को सुनिश्चित किया जाना चाहिए।

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Related posts

Leave a Comment